हेल्पलाइन:

Introduction of Computer and its components कम्प्युटर के मुख्य कोम्पोनेंट्स

Introduction of Computer and its components कम्प्युटर के मुख्य कोम्पोनेंट्स

कंप्यूटर क्या है (what is Computer) –

हम में से सभी व्यक्तियों ने कंप्यूटर को देखा भी है और इसमें काम भी किया है. हो सकता है कुछ लोगो ने काम नहीं किया हो लेकिन सुना और देखा सब ने होगा कंप्यूटर का आजकल सभी क्षेत्रों में प्रयोग किया जा रहा है ऐसा कोई भी क्षेत्र नहीं है जहाँ कंप्यूटर का प्रयोग नहीं किया जाता चाहे आप शिक्षा,सुरक्षा,चिकित्सा के क्षेत्र में देखे या किसी अन्य क्षेत्र में

सभी क्षेत्र में कंप्यूटर का ही प्रयोग किया जा रहा है लेकिन यदि आपसे कोई एकाएक से आकर यह पूछ ले कि कंप्यूटर क्या है? कंप्यूटर को हिंदी में क्या कहते है?  या कंप्यूटर कैसे कार्य करता है? तो आप इस प्रश्न के उत्तर को देने में थोड़ा सोचेगे जरूर यहाँ पर आपको हम कंप्यूटर की कुछ ऐसी जानकारी दे रहे है जिसे आप ध्यान पूर्वक कंठस्थ (पढ़कर) कर लेगे तो आपको को कंप्यूटर की बेसिक जानकारी प्राप्त हो जायेगी।

अगर बात करे इसके नाम की तो कंप्यूटर शब्द अंग्रेजी भाषा के कंप्यूट (Compute) शब्द से बना है जिसका अर्थ होता है “गणना” तथा कंप्यूटर का हिंदी नाम देखे तो “संगणक” है. इसे कुछ लोग कंप्यूटर या परिकलक भी कहते है कंप्यूटर का अविष्कार कैलकुलेशन के लिए हुआ था परन्तु आज के समय में कंप्यूटर का प्रयोग सभी क्षेत्रों में किया जाता है।

अगर परिभाषा की बात करें तो कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो हमारे द्वारा दिये गये डेटा को ग्रहण करके उस पर हमारे द्वारा दिये गये निर्देश (कमांड) के अनुसार काम करता है और हमें हमारी इच्छा के अनुसार चाहा गया रिजल्ट प्रदान करता है जिन कमांड्स के आधार पर कम्प्यूटर काम करता है उन्हें प्रोग्राम कहा जाता है।

कम्प्यूटर के मुख्य रूप से तीन कंपोनेंट्स होते हैं (There are mainly three components of the computer) –

  1. हार्डवेयर (Hardware)
  2. सॉफ्टवेयर (Software)
  3. यूजर्स (Users)

हार्डवेयर (Hardware) –

पहले समझते है हार्डवेयर को कंप्यूटर के वह कंपोनेंट्स होते है जिन्हें हम देख सकते है छू भी सकते हैं। उसे हम हार्डवेयर कहते है जैसे- सीपीयू(CPU), फ्लॉपी ड्राइव (Floppy Drive), सीडी/डीवीडी रोम ड्राइव (CD/DVD ROM Drive), मॉनिटर (Monitor), की-पैड (Keypad), माउस (Mouse), स्पीकर्स (Speakers) आदि हार्डवेयर मे आते हैं।

सॉफ्टवेयर (Software) –

कम्प्युटर का वह हिस्सा जिसे हम छू नहीं सकते है और देख भी नहीं सकते केवल महसूस कर सकते है उसे सॉफ्टवेयर कहते है “सॉफ्टवेयर” उन प्रोग्रामों को कहा जाता है, जिन्हे हम हार्डवेयर पर चलाते हैं।

और भी सरल भाषा मे समझे तो जैसे हमारा शरीर है वह एक हार्डवेयर है और दिमाग(यादश्शत) सॉफ्टवेयर हमपने बॉडी या शरीर को छू सकते है देख सकते है किन्तु यादश्शत को केवल महसूस कर सकते है न देख सकते है और न छू सकते है ।

यह दो तरह के हो सकते है –

सिस्टम सॉफ्टवेयर (System Software)

एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर (Application Software)

सिस्टम सॉफ्टवेयर (System Software)-किसी भी कम्प्यूटर को चलाने के लिए सबसे आवश्यक सॉफ्टवेयर ऑपरेटिंग सिस्टम (Operating System) है बिना ऑपरेटिंग सिस्टम के कम्प्यूटर एक निर्जीव के सामान है ।

कम्प्यूटर सिस्टम के हार्डवेयर रिसोर्सेस जैसे-  की-बोर्ड, मॉनिटर, सी.पी.यू ,प्रोसेसर, मैमोरी,तथा इनपुट-आउटपुट डिवाइसेस को सिस्टेमेटिक करने के लिये बनाये गये सॉफ्टवेयर को ऑपरेटिंग सिस्टम कहते है।  आप सभी ने  डॉस (DOS), विंडोज-98, विंडोज-एक्स पी, विंडोज-विस्टा,विंडो-7,विंडो-8,विंडो-10 आदि के नाम सुने ही होंगे ये सभी ऑपरेटिंग सिस्टम है जो माइक्रोसॉफ्ट कंपनी द्वारा बनाये गये हैं। आज जो सबसे प्रचलित ऑपरेटिंग सिस्टम हैं वह माइक्रोसॉफ्ट कंपनी द्वारा बनाये गये हैं। इनमें विंडोज-एक्स पी, विंडो-7,विंडो-8,विंडो-10 प्रमुख हैं। लेकिन इन सभी ऑपरेटिंग सिस्टम को खरीदना पड़ता है।

लेकिन यदि आप ऐसा कोई ऑपरेटिंग सिस्टम का प्रयोग करना चाहते है या खोज रहे है जो फ्री हो तो इसके लिए लिनक्स के कई ऐसे ऑपरेटिंग सिस्टम है जो फ्री मे मिल जाएगे और इंटरनेट के माध्यम से इन्हे डाउनलोड किया जा सकता है।

एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर (Application Software)-एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर वह सॉफ्टवेयर है जो कि हमारे काम को आसान बनाता है ये भी अलग-अलग प्रकार के होते है जैसे अगर हमारी कोई कंपनी है और उसका उसके अनुरूप सॉफ्टवेयर तैयार कराया है तो वह हमारा पर्सनल या विशेष प्रकार का सॉफ्टवेयर है जो एक कंपनी या व्यक्ति की अवशकता ए अनुरूप होता है इसी तरह से बहुत से लोगो या कंपनियों के लिए तैयार सॉफ्टवेयर सामान्य सॉफ्टवेयर कहते है एम॰एस॰ऑफिस एक उदाहरण है।

यूजर्स (Users) –

कम्प्यूटर को प्रयोग करने वाले या आदेश –निर्देश देने वाला प्रयोगकर्ता यूजर्स(Users) कहलाता हैं।

कैसे काम करता है कंप्यूटर (How does the computer work) –

अगर कोई पूछे कि कम्प्युटर कैसे काम करता है तो हमारा जवाब होगा यह होगा

कंप्यूटर किसी भी काम को तीन चरणों में पूरा करता है: –

  1. इनपुट
  2. प्रोसेसिंग
  3. आउटपुट

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो हमारे द्वारा दिये गये आकड़ो (Data) को इनपुट के रूप में ग्रहण करता  है फिर कंप्यूटर सीपीयू द्वारा डेटा की प्रोसेसिंग करता है इसके बाद यह इसे मॉनिटर पर आउटपुट के रूप मे दर्शाता है।

February 21, 2018

0 responses on "Introduction of Computer and its components कम्प्युटर के मुख्य कोम्पोनेंट्स"

Leave a Message

Your email address will not be published. Required fields are marked *

 


हमारे बारे में

कौन-कौन ऑनलाइन है

There are no users currently online
top
सर्वाधिक सुरक्षित.© राना 2 हिन्दी टेक.2009-18
X